5 Warning Signs Are Seen Before Heart Failure, Be Alert Otherwise Things Will Get Out Of Hand

0
23
5 Warning Signs Are Seen Before Heart Failure, Be Alert Otherwise Things Will Get Out Of Hand


स्थिति को तेज होने से रोकने के लिए हार्ट फेल्योर के शुरुआती लक्षणों (early symptoms of heart failure) को समझना जरूरी है. कुछ लक्षण नीचे लिस्टेड हैं जिन्हें आपको जरूरी देखना चाहिए.

1. जकड़न

हार्ट फेल्योर फेफड़ों में तरल पदार्थ के निर्माण का कारण बन सकती है. इसके कारण व्यक्ति को घरघराहट, खांसी और सांस लेने में कठिनाई का अनुभव हो सकता है.

ट्रेवलिंग करने का प्लान बना रहे हैं तो इन 7 सुपरफूड को बैग में रखना न भूलें, हर जरूरत को करेंगे पूरा

2. एडिमा या टखने की सूजन

जब हृदय कुशलतापूर्वक रक्त पंप करने की शक्ति खो देता है, तो यह शरीर के निचले हिस्सों से उपयोग किए गए ब्लड को वापस लाने में विफल हो जाता है. इससे पैरों, टखनों, पेट और जांघों में तरल पदार्थ जमा हो जाता है, जिससे सूजन हो जाती है.

3. सांस की तकलीफ

फेफड़ों में द्रव का निर्माण कार्बन डाइऑक्साइड युक्त रक्त को ताजा ऑक्सीजन युक्त रक्त में परिवर्तित करना मुश्किल बना देता है. सांस की तकलीफ तब और अधिक स्पष्ट हो सकती है जब गुरुत्वाकर्षण के कारण फेफड़ों के नीचे से धड़ तक फ्लूड लिक्विड होता है.

करवा चौथ तक चमक जाएगा आपका चेहरा, बस अपनाएं ये 2 आसान और इफेक्टिव ब्यूटी सीक्रेट्स

4. एक्टिविटी को रोकने में कठिनाई

सांस की तकलीफ और थकावट के कारण, हार्ट फेल्योर वाले व्यक्तियों को अक्सर शारीरिक गतिविधियों और यहां तक कि दिन-प्रतिदिन की एक्टिविटी को पूरा करने में कठिनाई होती है.

5. थकान

इस स्थिति वाले लोगों के लिए थकावट और थकान की सामान्य भावना बनी रह सकती है. यह शरीर की एनर्जी जरूरतों को पूरा करने के लिए ऑक्सीजन युक्त रक्त को कुशलतापूर्वक पंप करने में हृदय की अक्षमता के कारण है.

शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल का खात्मा करते हैं धनिया के बीज, सिकुड़ी नसें फिर हो जाती हैं चोड़ी

कई कारकों के परिणामस्वरूप हृदय की मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं और बाद में हृदय गति रुक जाती है. हाई ब्लड प्रेशर और संकुचित धमनियां अंगों में रक्त के स्वस्थ प्रवाह को प्रतिबंधित कर सकती हैं.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.



Source link