रेमो डिसूजा ने खुद पर लगे ठगी के आरोप को बताया झूठा, जाने क्या था मामला

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। साल 2016 में स्थानीय अदालत द्वारा धोखाधड़ी और जबरन वसूली के मामले में आरोपी बनाए गए फिल्मकार और कोरियोग्राफर रेमो डिसूजा ने कहा कि उन पर लगा ठगी का यह मामला झूठा है। डिसूजा ने इस मामले पर जारी किए गए गैर-जमानती वारंट से राहत पाने के लिए कथित तौर पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय का रुख किया था।

23 सितंबर 2016 में किए गए केस पर फिल्मकार ने बताया कि मेरे और मेरे वकील के खिलाफ एक झूठा मामला चल रहा है। हालांकि वह कानूनी प्रक्रिया के अंतगर्त है और मेरे वकील इसे देख रहे हैं। इसलिए मैं इस बारे में ज्यादा नहीं कह सकता। हां… बस इतना ही कह सकता हूं कि यह मामला झूठा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सतेंद्र त्यागी नामक एक शख्स ने रेमो के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। शख्स के अनुसार फिल्मकार ने उन्हें साल 2014 में एक फिल्म निर्माण में 5 करोड़ रुपये का निवेश करने के लिए राजी किया था और बाद में पैसे लौटाने का वादा किया था। हालांकि, उन्होंने पैसे कभी नहीं लौटाए। इसके साथ ही त्यागी ने यह भी दावा किया कि उन्हें किसी माफिया ने फोन कर जान से मारने की धमकी देते हुए 1 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी।

यह भी पढ़ें   राहुल बोस ने ऑर्डर किए 2 केले, फाइव स्टार होटल ने 442 रु. का थमाया बिल

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
Choreography Remo D’Souza Statement About His Legal Case
.
.

.