पाक विदेश मंत्री का बेतुका बयान, अयोध्या फैसले के जरिए सिखों की खुशियों के रंग में भंग डाल दिया गया

इस्लामाबाद, 9 नवंबर (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने अयोध्या मामले के फैसले के दिन और समय पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि आज (शनिवार को) जब सिख करतारपुर गलियारे के खुलने की खुशियां मना रहे हैं, उस दिन इस फैसले के आने से ध्यान बंटा है और इससे समुदाय की खुशियों के रंग में भंग पड़ गया है। उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या मामले में आए फैसले के बाद कश्मीर में आग और भड़केगी।

कुरैशी ने कहा, आज के दिन भारतीय अदालत द्वारा अयोध्या मामले में फैसला सुनाने का क्या मकसद है। सिख खुशी मना रहे हैं लेकिन उनकी खुशियों के रंग में भंग डाल दी गई है। क्या इस फैसले को कुछ दिन के लिए टाला नहीं जा सकता था। इतने खुशी के मौके पर दिखाई गई असंवेदनशीलता पर मुझे अफसोस है। आपको इस खुशी में शामिल होना चाहिए न कि इससे ध्यान भटकाना चाहिए। यह (अयोध्या) मामला एक संवेदनशील मुद्दा है, इसे आज की खुशी के दिन के साथ नहीं जोड़ा जाना चाहिए था।

यह भी पढ़ें   टेक्सास गोलीबारी में 5 लोगों की मौत, 21 घायल

अयोध्या मामले में आए फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया में कुरैशी ने कहा, भारतीय सुप्रीम कोर्ट पर बेपनाह दबाव है। इस फैसले से भारतीय अदालत ने एक नई बहस छेड़ दी है और इसके साथ गांधी और नेहरू का भारत दफन हो गया है। इस फैसले के बाद कश्मीर की आग और भड़केगी। नफरत के बीज बोना बहुत खतरनाक खेल है।

.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.

.

...
Ayodhya verdict was dissolved in the color of happiness of Sikhs: Pakistani Foreign Minister
.
.

.

Leave a Reply